Pages

Thursday, February 5, 2009

कंप्यूटर प्रोसेसर का चुनाव कैसे करें

द्वारा बिष्ट

जब आप कोई मोबाइल खरीदते हैं तो उसमें क्या खूबियाँ देखते हैं ?

एक बात तो पक्की है आप मोबाइल की प्रोसेसिंग स्पीड (मोबाइल कितना तेज चलता है) को तो शायद ही अपने चुनाव का आधार बनाते हैं | आप मोबाइल की कनेक्टिविटी और ग्राफिक्स को सर्वाधिक तरजीह देते हैं |

परन्तु जब आप कंप्यूटर खरीदते हैं तो आप प्रोसेसिंग स्पीड को सर्वाधिक तरजीह देते हैं, और इसको अपने चुनाव का आधार भी बनाते हैं | आप ऐसे प्रोसेसर का चुनाव करते हैं जो न केवल तेज हो बल्कि आपके बजट के अंतर्गत खरीदा जा सकने वाला सर्वाधिक गति वाला हो |

यह सही है की कंप्यूटर के लिए गति महत्त्वपूर्ण है, पर प्रश्न है की कितनी गति पर्याप्त है |

इसके अतिरिक्त क्या एक कंप्यूटर में उन्नत कनेक्टिविटी और ग्राफिक्स महत्त्वपूर्ण नहीं हैं |

आज बाजार में मौजूद अधिकाश प्रोसेसर, एक सामान्य कंप्यूटर उपयोगकर्त्ता की आवश्यकताओं को देखते हुए काफ़ी तेज हैं | सरल भाषा में उनसे कहीं कम गति वाले प्रोसेसर एक सामान्य उपयोगकर्त्ता के लिए पर्याप्त है |

अब होता यह है, कि गति की इस होड़ में, अधिकाँश उपभोक्ता एक ऐसे प्रोसेसर के लिए धन व्यय करते हैं जो उन्हें गति तो देता हैं परन्तु अन्य गुणों(उन्नत कनेक्टिविटी और ग्राफिक्स) में पिछड़ जाता है |

लेकिन क्योंकि एक सामान्य उपयोगकर्त्ता कंप्यूटर को मूल कंप्यूटिंग क्रियाओं से अधिक मनोरंजन आदि क्रियाओं के लिए उपयोग करता है अतः गति की यह होड़ उसके कंप्यूटर अनुभव को सीमित करती है |

कंप्यूटर चिपमेकर इंटेल इस दिशा में योजना बना रहा है | गति प्रधान चिप्स के स्थान पर, उसकी योजना एक सर्वगुण संपन्न प्रोसेसर बनाने की रहेगी | इससे वह न केवल बदलते समय के अनुरूप अपने उत्त्पादों को ढाल पायेगा अपितु तेजी से फैलते मोबाइल बाज़ार में भी अपनी पैठ बना पायेगा |

निष्कर्ष:

अति विशिष्ठ कार्यों को छोड़ दिया जाए, तो सामान्य उपयोगकर्ता और व्यवसाय के लिए आज से दस वर्ष पुराना प्रोसेसर भी पर्याप्त है | आप का मस्तिष्क जितनी गति से सोचता है, दस वर्ष पुराना प्रोसेसर भी उससे कहीं अधिक तीव्रता से कार्य करता है | एक उन्नत कंप्यूटर अनुभव के लिए उन्नत ग्राफिक्स और कनेक्टिविटी भी उतनी ही आवश्यक हैं | अतः कंप्यूटर खरीदते समय न केवल प्रोसेसर गति को प्राथमिकता दें अपितु अन्य गुणों की और भी ध्यान दें |

एक मध्य मार्ग का अनुसरण करें |

याद रखिये आज के मोबाइल, कल के कम्प्यूटरों का बाल रूप हैं | अतः जिन मापदंडों के आधार पर आप एक मोबाइल का चुनाव करते हैं उन्ही मापदंडों को एक नया कंप्यूटर खरीदते समय भी चुनाव का आधार बनाएं |
=======================================
processor intel computer personal speed hertz mobile graphics

4 comments:

कुन्नू सिंह said...

मोबाईल खरीदने से पहले मै साईटों पर देखता हूं कि कीतना तेज चलता है। रीवयू और यभी देखता हूं
की कीतने लोग ईस मोबाईल के खीलाफ हैं और कितने कहते हैं की "बहुत बढीया है"

बिना देख खरीदने जाता हूं तो पहले मै ब्लूटूथ,ईन्फारेड(हो तो सही है) स्पीड(एक ही बार मे पता चल जाता है)

कलर भी और ईनटरनेट का सपीड मतलब क्या ईसमे EDGE है और GPRS का कौन सा कलास है।
10class या 32 class भी अच्छा होता है(GPRS का क्लास जीतना अच्छा होगा उतना ही नेट डाउन्लोड और तेजी से करेगा और नेट भी तेज चलेगा)

कंप्यूटर का प्रोसेसर (ये थोडा कठीन होता है)

pankajrago said...

लेकिन आज कल जो नये नये सफ़्ट्वेयर मार्केट मे आ रहे है उसके लिये पुराना प्रोसेसर सही नहि है!!
u r most welcome at my site

Mr Bisht said...

@ कन्नू सिंह

आप जागरूक हैं और आपको आवश्यक ज्ञान भी है | अच्छा लगा |
इस लेख का उद्देश्य एक चयन विसंगति को सरल भाषा में प्रस्तुत करना था | पाठक को यह बताना था की मात्र गति ही एक अच्छे प्रोसेसर का मुख्य लक्षण नहीं है |

टेक पत्रिका पढ़ते रहिये | आपके सुझाव और आलोचना हमारी मार्गदर्शक हैं |

Mr Bisht said...

@ पंकजरागो

आप की इस बात का उत्तर मैं इस प्रकार देना चाहूँगा:

मैंने अपना पी सी वर्ष १९९९ में खरीदा था, उसमें सेलेरोन ४०० (पेंटियम || ) प्रोसेसर है, दस वर्ष बीतने के पश्चात भी कंप्यूटर अच्छा कार्य कर रहा है | जब हम सामान्य उपयोगकर्त्ता की बात करते हैं तो हम यह मानते हैं कि उसके लिए पी सी एक उन्नत इंजन के मुकाबले एक बढ़िया चलने वाली कार अधिक है | अतः मैंने कहा कि दस वर्ष पुराना प्रोसेसर भी ख़राब नहीं है | हाँ यह कहना उचित होगा कि ग्राफिक्स यूसर इंटरफेस के आने से पहले का पी सी जरूर बीती बात हो गया है | इसके अतिरिक्त एक अच्छा पी सी कई अव्ययों से मिलकर बनता है | एक अच्छे उपभोक्ता के नाते , हमें वह समीकरण ढूढना है जो न केवल अच्छा कंप्यूटर अनुभव दे पर धन संसाधन का भी प्रभावी उपयोग करे |

मुझे आशा है कि आप मेरा आशय समझ गए होंगे | यदि आप को कोई शंका हो तो अवश्य बताएं |

टेक पत्रिका पढ़ते रहिये | आपके सुझाव और आलोचना हमारे मार्गदर्शक हैं |